पिछले साल के मुकाबले 68 शहरों को पछाड़ हिसार 105वें स्थान पर, स्टेट में 6वें

मिनिस्ट्री ऑफ हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 की रैंकिंग जारी की है। हिसार शहर काे सफाई के मामले में पिछले साल की बजाय इस बार स्टेट और नेशनल रैंकिंग में बेहतर स्थान मिला है। नेशनल रैंकिंग में हमारा सिटी 105वीं रैंक पर है...

पिछले साल के मुकाबले 68 शहरों को पछाड़ हिसार 105वें स्थान पर, स्टेट में 6वें

मिनिस्ट्री ऑफ हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 की रैंकिंग जारी की है। हिसार शहर काे सफाई के मामले में पिछले साल की बजाय इस बार स्टेट और नेशनल रैंकिंग में बेहतर स्थान मिला है। नेशनल रैंकिंग में हमारा सिटी 105वीं रैंक पर है और स्टेट में हिसार काे छठा स्थान मिला है। पिछले साल हिसार की ओवरऑल यानी नेशनल स्तर पर रैंकिंग 173 मिली थी और स्टेट में 7वीं रैंक हासिल की थी। यानि पिछले साल के मुकाबले नेशनल लेवल पर शहर की रैंकिंग में 68 पायदान का सुधार हुआ है। हिसार काे इस बार 6000 अंक में से 3311.10 स्काेर मिले हैं। साेनीपत से 21 नंबर से हिसार पिछड़ गया है।

प्राेसेसिंग व साॅलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट : नगर निगम अफसरों की मानें ताे रैंकिंग में कम अंक आना शहर में प्राेसेसिंग प्लांट न हाेना है, क्याेंकि ब्लक वेस्ट जनरेटर व प्राेसेसिंग प्लांट के कुल 700 नंबर थे, जिनमें से नाममात्र ही नंबर मिल पाए। साेलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट नहीं हाेने से रैंकिंग पर असर पड़ा है।

सर्विस लेवल : इसमें भी बहुत कम अंक मिले हैं। यानी निगम पब्लिक काे ठीक से सफाई इत्यादि में सही सर्विस नहीं दे पा रहा। इसमें डाेर-टू-डाेर कचरा कलेक्शन शामिल है। जिस समय सर्वे चल रहा था, तब डाेर-टू-डाेर कूड़ा उठाने की प्रक्रिया ठीक से शुरू नहीं हाे पाई थी।

सिटीजन फीडबैक में जागरूकता के अभाव में कम सिटीजन फीडबैक रहा। हिसार के सिटीजन फीडबैक में 1500 में से 461 अंक कट गए।

सर्टिफिकेशन : शहर काे ओडीएफ प्लस प्लस के पांच साै अंक ताे मिल गए मगर स्टार रैंकिंग के जीराे अंक मिले।

रैंकिंग का उतार-चढ़ाव

  • साल 2020 में प्रदेश में छठे स्थान पर रहा।
  • साल 2019 में प्रदेश में सातवें स्थान पर रहा।
  • साल 2018 में प्रदेश में पांचवें स्थान पर रहा।
  • साल 2017 में प्रदेश में छठे स्थान पर रहा।

रैंकिंग सुधार को ये हुए काम

  • कंपोस्टिंग प्लांट वार्ड स्तर पर शुरू।
  • शहरवासियों को होम कंपोस्टिंग के प्रति जागरूक किया और लोगों ने इस दिशा में बेहतरीन काम किया।
  • डोर-टू-डोर कचरा प्रबंधन को बढ़ावा दिया और जनता को जागरूक किया।
  • शहर के डंपिंग प्वाइंट्स को खत्म करवाने का कार्य किया।
  • शहर को ओडीएफ प्लस प्लस कराया।
  • शहर के पब्लिक व सामुदायिक शौचालयों में बेहतर व्यवस्थाएं करवाई गईं। गूगल ट्रैकिंग के माध्यम से आम आदमी शौचालय की जानकारी ले सकता है।

स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में नगर निगम हिसार ने देशभर 105वीं रैंकिंग पाई। अभी तक कचरा प्रबंधन आदि को लेकर काम करने की जरूरत है।'' अशोक कुमार गर्ग, निगम आयुक्त।

स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में देशभर में 105वें स्थान पर आना खुशी की बात है। शहर को ग्रीन हिसार क्लीन हिसार बनाना हमारा लक्ष्य है।'' -गौतम सरदाना, मेयर।

Source dainik bhaskar