999 संक्रमित; एक आईएएस अफसर कोरोना पॉजिटिव, 53 दिन बाद पटना एयरपोर्ट से यात्री विमान ने भरी उड़ान

लॉकडाउन फेज-3 का आज 12वां दिन है। बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 999 हो गई है। कोरोना से सात लोगों की मौत हुई है। 411 मरीज स्वस्थ होकर अस्पताल से घर लौट गए हैं। एक आईपीएस अफसर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। 2017 बैच का यह आईएएस अधिकारी नालंदा...

999 संक्रमित; एक आईएएस अफसर कोरोना पॉजिटिव, 53 दिन बाद पटना एयरपोर्ट से यात्री विमान ने भरी उड़ान

लॉकडाउन फेज-3 का आज 12वां दिन है। बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 999 हो गई है। कोरोना से सात लोगों की मौत हुई है। 411 मरीज स्वस्थ होकर अस्पताल से घर लौट गए हैं। एक आईपीएस अफसर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। 2017 बैच का यह आईएएस अधिकारी नालंदा में पदस्थापित हैं। रिपोर्ट आने के बाद उन्हें आइसोलेशन सेंटर में भर्ती किया गया। उनकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है। वह किसी स्थानीय के संपर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। बिहार में किसी आईएएस अधिकारी के संक्रमित होने का यह पहला मामला है। अधिकारी के संपर्क में आने वालों को आइसोलेट कर उनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। इससे पहले पटना के एक आईपीएस अधिकारी की कोरोना जांच करवाई गई थी। उनकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आई थी।

लॉकडाउन के 53 बाद यात्री विमान ने भरीउड़ान
लॉकडाउन के चलते पटना एयरपोर्ट को यात्रियों के लिए बंद कर दिया गया था। लॉकडाउन के 53 जिन बाद शुक्रवार को एयरपोर्ट पर यात्री दिखे। आज एयर इंडिया के दो विशेष चार्टर्ड विमान पटना एयरपोर्ट पर लैंड कर रहे हैं। मुंबई से आये पहले चार्टर्ड विमान ने सुबह 9.15 बजे लैंड किया। विमान ने 10 बजे मुंबई के लिए उड़ान भरी। इससे लॉकडाउन में फंसे 105 अधिकारियों को मुंबई ले जाया गया। इन 105 लोगों को सुबह साढ़े छह बजे पटना एयरपोर्ट पर बुलाया गया था। दूसरा विमान ओएनजीसी के 110 अधिकारियों व स्टाफ को मुंबई से लेकर 3:30 बजे रवाना होगा और पटना एयरपोर्ट पर पौने छह बजे लैंड करेगा। यात्रियों को एयरपोर्ट से बस और कार से घरों तक पहुंचाया जाएगा।

पटना: ट्रक पर सवार होकर अपने घर जाते प्रवासी।

तीन मई के बाद आने वालों में 352 पॉजिटिव

बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेजी से वृद्धि हुई है। नए मरीजों में प्रवासियों की संख्या अधिक है। तीन मई के बाद विभिन्न राज्यों से बिहार आने वालों में से 7500 के सैंपल की जांच हुई। इनमें 352 सैंपलों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें सबसे अधिक दिल्ली से आए 114 लोग शामिल हैं। इसके अलावा गुजरात से 97, महाराष्ट्र से 66, पश्चिम बंगाल से 22, हरियाणा से 17 और उत्तर प्रदेश से 13 संक्रमित लोग आए। 3 मई से 14 मई के बीच संक्रमितों की संख्या 516 से बढ़कर 999 हो गई। 3 मई से विशेष श्रमिक ट्रेनों से प्रवासी मजदूरों का आना शुरू हुआ था।

क्वारैंटाइन सेंटर में रह रहे 2.15 लाख प्रवासी
ब्लॉक स्तर पर बने 4671 क्वारैंटाइन सेंटर में 2.15 लाख से अधिक प्रवासी रह रहे हैं। आज 32 ट्रेनों से 46795 प्रवासी आ रहे हैं। गुरुवार को 34 ट्रेन से 51 हजार लोग आए। विभिन्न राज्यों से बसों के माध्यम से 65306 लोग बिहार आए हैं। इन सभी को गोपालगंज और कैमूर बॉर्डर से उनके जिले के ब्लॉक में बने क्वारैंटाइन सेंटर तक भेजा गया।